02 June

ScoreBetter.in

पाषाण युग का संक्षिप्त विवरण

डेनिश विद्वान क्रिस्टियन जे. थॉमसन(Christian Jűrgensen Thomsen) ने 19 वीं सदी में मानव अतीत के अध्ययन के क्रम में तकनीकी ढांचे के आधार पर सर्वप्रथम ‘पाषाण युग’ शब्द का प्रयोग किया| पाषाण युग के रूप में उस युग को परिभाषित किया गया है जब प्रागैतिहासिक मनुष्य अपने प्रयोजनों के लिए पत्थरों का उपयोग करते थे| इस युग को […]

10 April

Ancient-Indian-History-Quiz-Part-4-For-UPSC-SSC-Railways-CDS-NDA-AFCAT-etc

Buddhism and Jainism

ब्राह्मण नामक पुरोहि‍त वर्ग के प्रभुत्‍व के विरुद्ध क्षत्रियों की प्रतिक्रिया। महावीर और गौतम बुद्ध, दोनों क्षत्रिय कुल के थे। वैदिक बलिदानों और खाद्य पदार्थों के लिए मवेशियों की अंधाधुंध हत्याओं ने नईं कृषि अर्थव्यवस्था को अस्थिर कर दिया, जो खेती करने के लिए मवेशियों पर निर्भर थी। बौद्ध धर्म एवं जैन धर्म दोनों इस हत्या के विरुद्ध खड़े हो गए थे। पंच चिन्‍हित सिक्‍कों के प्रचलन और व्‍यापार एवं वाणिज्‍य में वृद्धि के साथ शहरों के विकास ने वैश्‍यों के महत्‍व को बढ़ावा दिया, जो अपनी स्‍थिति में सुधार करने के लिए एक नए धर्म की तलाश में थे। जैन धर्म एवं बैद्ध धर्म ने उनकी जरूरतों को सुलझानें में सहायता की।

10 April

history-art-and-culture

Mauryan Empire

मौर्य साम्राज्‍य का प्रारंभ चंद्रगुप्‍त मौर्य द्वारा 321 ईसा पूर्व में मगध से हुआ। विशाखादत्‍त द्वारा रचित मुद्राराक्षस में चाणक्‍य की मदद से चंद्रगुप्‍त मौर्य के उदय का सुदंरता से चित्रण किया गया है। चंद्रगुप्‍त मौर्य जैनधर्म का अनुयायी था। पाटलिपुत्र, आधुनिक पटना मौर्य साम्राज्‍य की राजधानी थी।

27 March

Gupta Empire | गुप्‍त साम्राज्‍य

मौर्य साम्राज्‍य के पतन के पश्‍चात, उत्‍तर में कुषाण और दक्षिण में सातवाहन शासकों के पास सत्‍ता थी। गुप्‍त साम्राज्‍य ने प्रयाग में अपनी शक्ति के केन्‍द्र को रखते हुए उत्‍तर में कुषाणों को प्रतिस्‍थापित किया और एक शताब्‍दी (335 – 455 ईसवी) से अधिक समय तक राजनैतिक एकता को अखण्‍ड बनाए रखा। गुप्ता राजवंश की स्थापना श्री गुप्ता ने की थी।

26 March

history-art-and-culture

Sangam Era | संगम काल

The period roughly between the 3rd century B.C. and 3rd century A.D. in South India (the area lying to the south of river Krishna and Tungabhadra) is known as Sangam Era.
It has been named after the Sangam academies held during that period that flourished under the royal patronage of the Pandya kings of Madurai.

23 March

Shaheed Diwas (23 March) | शहीद दिवस

शहीद दिवस (Shaheed Diwas) या सर्वोदय दिवस पर, हम राष्ट्र की सेवा में अपना जीवन देने वालों को अपना सम्मान और श्रद्धांजलि देते हैं, मुख्य रूप से देश की आजादी के लिए लड़ने वालों के लिए।

15 March

history-art-and-culture

Post-Mauryan Art and Architecture | मौर्योत्तर कालीन कला एवं स्थापत्यकला

विभिन्न शासकों ने मौर्य साम्राज्य के बाद अपना नियंत्रण स्थापित किया: उत्तर भारत और मध्य भारत के कुछ हिस्सों में शुंग, कण्व, कुषाण और गुप्त; सातवाहनों, इक्ष्वाकु, अबीर, दक्षिण और पश्चिमी भारत में वाकाटक। इस अवधि में वैष्णवों और शैवों जैसे प्रमुख ब्राह्मणवादी संप्रदायों का उदय भी हुआ।

15 March

history-art-and-culture

Later Mural Paintings

The history of Indian Later mural painting starts in ancient and early medieval times, from the 2nd century BC to 8th – 10th century AD. There are more than 20 locations around India containing murals from this period, mainly natural caves and rock-cut chambers. The different time periods also gave rise to different styles of mural painting that this article aims to highlight.

04 March

history-art-and-culture

Mughal Architecture | मुगल वास्तुकला

1526 ईस्‍वीं में पानीपत के युद्ध के बाद मुगल वंश की स्थापना हुई। और बाबर के बाद, प्रत्‍येक शासक ने वास्तुकला के क्षेत्र में बहुत महत्‍वपूर्ण योगदान दिया। मुगल शासक कला और वास्तुकला (Mughal Architecture) के सच्‍चे समर्थक थे। उन्होंने भारतीय उपमहाद्वीप में भारत-इस्लामिक वास्तुकला का विकास किया। उन्होंने लोधी जैसे पूर्व के वंशों की शैली का विकास किया और यह इस्लामी, फारसी, तुर्की और भारतीय वास्तुकला का संयोजन थी।

03 March

history-art-and-culture

Indian Paintings (Art & Culture)

Indian Painting is one of the most delicate forms of art giving expression to human thoughts and feelings through the media of line and color. Many thousands of years before the dawn of history, when the man was only a cave dweller, he painted his rock shelters to satisfy his aesthetic sensitivity and creative urges.

25 February

ScoreBetter.in

Indian Socio-Cultural Movement: Socio-Cultural Organisations

मूल रूप से, भारत में 19 वीं सदी में दो तरह के सामाजिक-सांस्कृतिक सुधार आंदोलन हुए:
सुधारवादी –
इन आंदोलनों ने आधुनिक युग के समय और वैज्ञानिक स्वभाव के साथ प्रतिक्रिया व्यक्त की।
पुनरुत्थानवादी –
इन आंदोलनों ने प्राचीन भारतीय परंपराओं और विचारों को पुनर्जीवित करना शुरू कर दिया और माना कि पश्चिमी सोच ने भारतीय संस्कृति और लोकाचार को बर्बाद कर दिया।

09 February

ScoreBetter.in

Maratha Empire | मराठा साम्राज्य

मराठा साम्राज्य (Maratha Empire) के पहले महान नेता छत्रपति शिवाजी थे। मराठा 17 वीं सदी के उत्तरार्ध में प्रमुख बन गए।
शिवाजी मराठों के भोंसले कबीले के थे। शाहजी भोंसले और जीजा बाई शिवाजी के माता पिता के थे।
वह जुन्नर के पास शिवनेर के किले में 19 फरवरी 1627 में पैदा हुऐ थे।
उनके पिता अहमद नगर के निजाम शाही शासकों के तहत एक सैन्य कमांडर थे और बाद में बीजापुर के थे।

10 January

ScoreBetter.in

Ancient Indian Architecture

The Indian Architecture is rooted in its history, culture and religion. Among a number of architectural styles and traditions, the contrasting Hindu temple architecture is the best known historical styles. Hindu temple architecture is mainly divided into Dravidian and Nagara styles.